महेंद्र सिंह धोनी और वसीम जाफर (दाएंं) क्रिकेट करियर की शुरुआत में साथ रहते थे। -फाइल फोटो

कोरोनावायरस संकट में महेंद्र सिंह धोनी 1 लाख रुपए दान दिया था, जिसे उनकी पत्नी ने अफवाह बतायाबीसीसीआई ने कोरोना से बचाव  के लिए 51 करोड़ रु. दान दिए, सचिन और सौरव ने 51-51 लाख रुपए दिए

खेल डेस्क. भारतीय घरेलू क्रिकेट के सबसे सफल खिलाड़ी वसीम जाफर ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर एक खुलासा किया है। उन्होने सोशल मीडिया पर लाइव चैट के दौरान कहा
कि धोनी ने अपने लक्ष्य से हजार गुना ज्यादा कमाई की है। जाफर ने एक फैन के सवाल पर कहा, ‘‘धोनी करियर के शुरुआती एक दो साल मेरे साथ ही रहे थे। उन्होंने मुझसे कहा था कि वे क्रिकेट खेलकर 30 लाख रुपए कमाना चाहते हैं। इसके बाद वे अपने शहर रांची में आराम से रह सकते हैं।’’

जाफर के इस खुलासे के बाद फैन्स के बीच अब यह बहस शुरू गई है कि भगवान ने जब उन्हें लक्ष्य से हजार गुना ज्यादा दिया, तो वे कोरोनावायरस जैसे संकट के समय में कहां छिपे हैं। दरअसल, महामारी से पूरी दुनिया जूझ रही है। भारत में भी यही हाल है। यहां सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, अजिंक्य रहाणे और गौतम गंभीर समेत कई खिलाड़ियों ने दान दिया है। वहीं, धोनी और विराट कोहली अब तक सामने नहीं आए हैं। कोहली सिर्फ संदेश दे रहे हैं, जबकि धोनी ने पुणे की एक संस्था को सिर्फ 1 लाख रुपए दान दिए। हालांकि, धोनी की पत्नी साक्षी ने इसे अफवाह बताया।

धोनी की कप्तानी में भारत ने वनडे और टी-20 वर्ल्ड कप जीता
धोनी भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं। उन्होंने पिछला मैच जुलाई में वनडे वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल खेला था। उन्होंने टीम के लिए 90 टेस्ट, 350 वनडे और 98 टी-20 खेले हैं। धोनी की कप्तानी में ही भारतीय टीम ने 2007 टी-20 और 2011 वनडे वर्ल्ड कप जीता था।

जाफर घरेलू क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी
वहीं, जाफर रणजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने रणजी में 12038, ईरानी ट्रॉफी में 1294 और दलीप ट्रॉफी में 2545 रन बनाए हैं। वे सबसे ज्यादा 156 रणजी मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने मुंबई को दो बार रणजी चैंपियन बनाया। वे दो बार रणजी टाइटल जीतने वाली विदर्भ टीम के सदस्य थे। वे रणजी में 12 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं।