DA Image

[ad_1]

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने खिलाड़ियों की आलोचना के बाद अपने संशोधित 2020 कैलेंडर का बचाव किया। शुरुआती कैलेंडर को कोरोना वायरस का झटका लगने के बाद बीडब्ल्यूएफ ने नया कैलेंडर जारी किया था और टूर्नामेंट्स की नई तारीखें बताई थीं। पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 महिला खिलाड़ी सायना नेहवाल और उनके पति पारुपल्ली कश्यप के अलावा बी.साई प्रणीत ने सोशल मीडिया पर नए कैलेंडर की आलोचना की थी। 

सायना ने ट्वीट किया, “पांच महीने बिना रुके सफर करना… सबसे बड़ा सवाल है कि अंतरराष्ट्रीय यातायात की गाइडलाइंस क्या हैं।” बीडब्ल्यूएफ महासचिव थॉमस लैंड ने कहा है कि हर खिलाड़ी के हर टूर्नामेंट में खेलने की उम्मीद नहीं है। उन्होंने साथ ही कहा कि उनकी कोशिश खेल को दोबारा शुरू करने की है। 

बिहार की बेटी ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति कुमारी पर बनेगी फिल्म

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने थॉमस के हवाले से लिखा है, “हम यह उम्मीद नहीं करते कि हर खिलाड़ी हर टूर्नामेंट खेले। नया कैलेंडर सभी स्तर के खिलाड़ी को खेल शुरू करने और अपनी पेशेवर जिंदगी को शुरू करने का मौका देगा।”

उन्होंने कहा, “यह उम्मीद की जाती है कि खिलाड़ी टूर्नामेंट को लेकर वैकल्पिक नीति अपनाएंगे। कुछ लोग ज्यादा टूर्नामेंट खेल सकते है, क्योंकि हो सकता है कि वो फाइनल तक न पहुंचे। अन्य खिलाड़ी यह फैसला ले सकते हैं कि उन्हें सप्ताह दर सप्ताह नहीं खेलना है।” 

खेल रत्न जीत चुकीं मीराबाई चानू को इस साल मिल सकता है अर्जुन अवॉर्ड, भारोत्तोलन महासंघ ने की उनके नाम की सिफारिश

उन्होंने कहा, “सामान्य स्थिति में खिलाड़ी और कोच क्या करते यह उससे अलग नहीं है, बल्कि यहां उनके पास छोटे कैलेंडर में ज्यादा विकल्प हैं।” थॉमस ने कहा कि वह भारतीय टीम के कोच पुलेला गोपीचंद के उस बयान पर विचार कर सकती है, जिसमें उन्होंने कहा था कि एक ही स्थल पर कई टूर्नामेंट आयोजित किए जा सकते हैं, क्योंकि इससे यातायात का समय बचेगा। 



[ad_2]

Source link