फाइल फोटो

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Up to date Wed, 03 Jun 2020 05:36 AM IST

ख़बर सुनें

देश की धड़कन रेलगाड़ी अब वापस ट्रैक पर लौट आई है। बड़ी संख्या में लॉकडाउन में जगह-जगह फंसे लोग अपने गृह प्रदेश के लिए रवाना हो रहे हैं। ट्रेन से यात्रा करने के लिए आप ऑनलाइन के साथ ही रेलवे काउंटर, यात्री सुविधा केंद्र, देशभर के दो लाख से अधिक कॉमन सर्विस सेंटर, यात्री सुविधा केंद्र, पोस्ट ऑफिस और मोबाइल एप के माध्यम से टिकट की बुकिंग करा सकेंगे। टिकट एजेंट को भी यात्रा टिकट बुक करने की अनुमति दे दी है।

आप रेलवे ट्रैक पर दौड़ रही 230 ट्रेनों का टिकट लेकर यात्रा कर सकते हैं। ट्रेनों के लिए चार महीने पहले एडवांस टिकटों की बुकिंग कर सकेंगे। कोविड-19 की वजह से ट्रेन के साथ पार्सल वैन नहीं जा रही थी। अब यह कोच भी ट्रेनों में जुड़ेगी। इसका फायदा यह होगा कि ट्रेनों में अब सामान की भी बुकिंग कराई जा सकती है। यानी ज्यादा लगेज होने पर ये लगेज बुक हो जाएगा। अनारक्षित टिकट नहीं मिल रहा है। उतने ही टिकट जारी किये जा रहे हैं जितनी कोच में बैठने की क्षमता है। इन ट्रेनों स्लीपर कोच के साथ एसी कोच भी है।

कैसे मिलेगा आरक्षित यात्रा टिकट

  • आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर यात्रा टिकट बुक करा सकते हैं।
  • मोबाइल पर अगर आपने एप डाउनलोड किया तो उससे भी टिकट की बुकिंग हो जाएगी।
  • रेलवे स्टेशन समेत यात्री सुविधा केंद्र, पोस्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर पर भी टिकट बुक कराए जा सकते हैं।
  • स्पेशल ट्रेन से यात्रा के लिए 120 दिन पहले यानी चार महीने पहले टिकट की बुकिंग की जा सकती है। हालांकि, फिलहाल इस सप्ताह इंतजार करना पड़ेगा।
  • अगर कहीं अचानक यात्रा करना चाह रहे हैं तो तत्काल टिकट की सुविधा भी है। एक दिन पहले तत्काल टिकट की बुकिंग भी की जा रही है।
  • अचानक यात्रा के लिए करंट काउंटर भी स्टेशन पर खुल रहे हैं। ट्रेन रवाना होने से चार घंटे पहले आरक्षण चार्ट तैयार हो रहा है, सीट खाली रहने पर तत्काल टिकट बुकिंग की सुविधा है। इसी तरह स्टेशन के करंट काउंटर से ट्रेन चलने के आधे घंटे पहले तक टिकट लिया जा सकता है। दरअसल जो यात्री अपनी कन्फर्म टिकट को रद्द करवाते हैं या फिर अगर कोटे के तहत आरक्षित सीटों की बुकिंग को अगर रद्द किया जाता है, तो इन सीटों की बुकिंग आप करेंट बुकिंग पर कर सकते हैं क्योंकि ट्रेन के 2 चार्ट एक four घंटे पहले और एक 2 घंटे पहले बनाया जाता है। पहले और दूसरे चार्ट के बीच भी कई टिकटों को रद्द किया जाता है। ऐसे में यात्री चाहे तो खाली सीटों के लिए करंट बुकिंग करा सकते हैं।
  • लॉकडाउन के समय से तत्काल टिकटों की बुकिंग पर रोक लगा दी गई थी, एडवांस टिकटों की बुकिंग पर भी रोक थी। जो 1 जून से रोक हटा ली गई है।
  • अगर आपके पास कन्फर्म टिकट है तभी ट्रेन में यात्रा कर सकेंगे। स्टेशन परिसर में एंट्री दी जाएगी।
  • आरएससी टिकट वालों को यात्रा की अनुमति दी जा रही है।
  • आरक्षित कोच में अनारक्षित टिकट पर यात्रा की अनुमति नहीं होगी।
  • एक पीएनआर पर अगर चार लोगों का टिकट है और एक टिकट कन्फर्म होता है तो सभी को यात्रा की अनुमति मिलेगी। हालांकि चाहे तो टिकट कैंसिल करा पैसा वापस लिया जा सकता है।
  • स्क्रीनिंग के दौरान कोरोना वायरस का लक्षण मिलेगा तो यात्रा की अनुमति नहीं होगी। टिकट का पूरा पैसा लौटा दिया जाएगा।
  • यात्रा के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का न केवल स्टेशन प्रवेश के वक्त बल्कि यात्रा के दौरान भी पालन करना होगा।
  • ई कैटरिंग की सुविधा ट्रेन में नहीं मिलेगी। खाना घर से ले जाए तो बेहतर। पैकेज फूड व पानी यात्रियों को पैसा खर्च कर लेना होगा।
  • आरोग्य सेतु एप मोबाइल में डाउनलोड करना यात्रा के लिए जरूरी होगा। 
देश की धड़कन रेलगाड़ी अब वापस ट्रैक पर लौट आई है। बड़ी संख्या में लॉकडाउन में जगह-जगह फंसे लोग अपने गृह प्रदेश के लिए रवाना हो रहे हैं। ट्रेन से यात्रा करने के लिए आप ऑनलाइन के साथ ही रेलवे काउंटर, यात्री सुविधा केंद्र, देशभर के दो लाख से अधिक कॉमन सर्विस सेंटर, यात्री सुविधा केंद्र, पोस्ट ऑफिस और मोबाइल एप के माध्यम से टिकट की बुकिंग करा सकेंगे। टिकट एजेंट को भी यात्रा टिकट बुक करने की अनुमति दे दी है।

आप रेलवे ट्रैक पर दौड़ रही 230 ट्रेनों का टिकट लेकर यात्रा कर सकते हैं। ट्रेनों के लिए चार महीने पहले एडवांस टिकटों की बुकिंग कर सकेंगे। कोविड-19 की वजह से ट्रेन के साथ पार्सल वैन नहीं जा रही थी। अब यह कोच भी ट्रेनों में जुड़ेगी। इसका फायदा यह होगा कि ट्रेनों में अब सामान की भी बुकिंग कराई जा सकती है। यानी ज्यादा लगेज होने पर ये लगेज बुक हो जाएगा। अनारक्षित टिकट नहीं मिल रहा है। उतने ही टिकट जारी किये जा रहे हैं जितनी कोच में बैठने की क्षमता है। इन ट्रेनों स्लीपर कोच के साथ एसी कोच भी है।

कैसे मिलेगा आरक्षित यात्रा टिकट

  • आप आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर जाकर यात्रा टिकट बुक करा सकते हैं।
  • मोबाइल पर अगर आपने एप डाउनलोड किया तो उससे भी टिकट की बुकिंग हो जाएगी।
  • रेलवे स्टेशन समेत यात्री सुविधा केंद्र, पोस्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर पर भी टिकट बुक कराए जा सकते हैं।
  • स्पेशल ट्रेन से यात्रा के लिए 120 दिन पहले यानी चार महीने पहले टिकट की बुकिंग की जा सकती है। हालांकि, फिलहाल इस सप्ताह इंतजार करना पड़ेगा।
  • अगर कहीं अचानक यात्रा करना चाह रहे हैं तो तत्काल टिकट की सुविधा भी है। एक दिन पहले तत्काल टिकट की बुकिंग भी की जा रही है।
  • अचानक यात्रा के लिए करंट काउंटर भी स्टेशन पर खुल रहे हैं। ट्रेन रवाना होने से चार घंटे पहले आरक्षण चार्ट तैयार हो रहा है, सीट खाली रहने पर तत्काल टिकट बुकिंग की सुविधा है। इसी तरह स्टेशन के करंट काउंटर से ट्रेन चलने के आधे घंटे पहले तक टिकट लिया जा सकता है। दरअसल जो यात्री अपनी कन्फर्म टिकट को रद्द करवाते हैं या फिर अगर कोटे के तहत आरक्षित सीटों की बुकिंग को अगर रद्द किया जाता है, तो इन सीटों की बुकिंग आप करेंट बुकिंग पर कर सकते हैं क्योंकि ट्रेन के 2 चार्ट एक four घंटे पहले और एक 2 घंटे पहले बनाया जाता है। पहले और दूसरे चार्ट के बीच भी कई टिकटों को रद्द किया जाता है। ऐसे में यात्री चाहे तो खाली सीटों के लिए करंट बुकिंग करा सकते हैं।
  • लॉकडाउन के समय से तत्काल टिकटों की बुकिंग पर रोक लगा दी गई थी, एडवांस टिकटों की बुकिंग पर भी रोक थी। जो 1 जून से रोक हटा ली गई है।
  • अगर आपके पास कन्फर्म टिकट है तभी ट्रेन में यात्रा कर सकेंगे। स्टेशन परिसर में एंट्री दी जाएगी।
  • आरएससी टिकट वालों को यात्रा की अनुमति दी जा रही है।
  • आरक्षित कोच में अनारक्षित टिकट पर यात्रा की अनुमति नहीं होगी।
  • एक पीएनआर पर अगर चार लोगों का टिकट है और एक टिकट कन्फर्म होता है तो सभी को यात्रा की अनुमति मिलेगी। हालांकि चाहे तो टिकट कैंसिल करा पैसा वापस लिया जा सकता है।
  • स्क्रीनिंग के दौरान कोरोना वायरस का लक्षण मिलेगा तो यात्रा की अनुमति नहीं होगी। टिकट का पूरा पैसा लौटा दिया जाएगा।
  • यात्रा के दौरान मास्क पहनना अनिवार्य होगा।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का न केवल स्टेशन प्रवेश के वक्त बल्कि यात्रा के दौरान भी पालन करना होगा।
  • ई कैटरिंग की सुविधा ट्रेन में नहीं मिलेगी। खाना घर से ले जाए तो बेहतर। पैकेज फूड व पानी यात्रियों को पैसा खर्च कर लेना होगा।
  • आरोग्य सेतु एप मोबाइल में डाउनलोड करना यात्रा के लिए जरूरी होगा। 

[ad_2]

Source link